BREAKING NEWS
Search
NBC News24

हमें अपनी खबर भेजे

Click Here!

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

शाम गुलाबी, शहर गुलाबी, पहर गुलाबी है

75

नमस्कार…NBC स्पेशल में आपका स्वागत है…
मैं हूं आपकी दोस्त…आपकी होस्ट….भारती दास सिंह
शाम गुलाबी, शहर गुलाबी, पहर गुलाबी है…गुलाबी ये शहर…ऐसा ही कुछ नजारा जयपुर का है…
जय़पुर को लोग पिंकसिटी के नाम से भी जानते है…तो चलिए जानते है…जय़पुर के पिंकसिटी बनने की कहानी…
पिंक सिटी कहे जाने वाले जयपुर में आप गुलाबी इफेक्ट आसानी से देख सकते हैं. यहां की दुकान, मकान, बाजार, गेट सभी गुलाबी हैं, जहां जाकर आप खुद ही समझ जाएंगे… कि आप पिंकसिटी यानी जयपुर है. लेकिन आज जानते हैं कि इस शहर का नाम गुलाबी नगर क्यों पड़ा…
पहले आपको जयपुर के बारे में बताते हैं. दरअसल जयपुर राजस्थान की राजधानी और एक खूबसूरत शहर है. इसकी स्थापना साल 1727 और 28 में की गई थी….।
ये महाराजा सवाई जयसिंह द्वितीय का दौर था और वो आमेर के महाराजा थे. महाराजा जयसिंह के नाम पर ही इसका नाम जयपुर रखा गया….कहा जाता है कि पहले ये ढूंढाड़ क्षेत्र की राजधानी थी
प्राचीनकाल में ये अम्बावती और अंबिकापुर के नाम से जाना जाता था
बता दें कि राजस्थान कई हिस्सों में बंटा है, जिसमें मारवाड़, मेवाड़, ढूंढाड़, शेखावाटी और भी बहोत से नाम शामिल है…।
दरअसल, जयपुर की स्थापना के 100 साल से भी ज्यादा समय बाद में इस नगर को गुलाबी नगर की संज्ञा दी गई. इससे पहले इस शहर को केवल जयपुर के ही नाम से जाना जाता था….
उस वक्त यह अन्य शहरों की तरह ही था…लेकिन 1818 में इसके गुलाबी होने की कहानी शुरू हुई….
जयपुर ने 1818 में ईस्ट इंडिया कंपनी के साथ संधि की और इसके साथ ही जयपुर के आधुनिकी करण का दौर भी शुरू हो गया. साल 1876 में इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ और प्रिंस ऑफ वेल्स युवराज अल्बर्ट जयपुर आने वाले थे
उस समय जयपुर के महाराजा सवाई रामसिंह इनकी तैयारियों में जुटे थे…..
महारानी के स्वागत के लिए पूरे शहर को सजाया गया और इसकी थीम रखी गई गुलाबी…उस दौरान महाराजा सवाई रामसिंह ने उच्च अधिकारियों से बातचीत कर परकोटे को गुलाबी रंग से रंग दिया और आज भी परकोटे में सब कुछ गुलाबी है…इसके बाद से ही इस शहर का नाम गुलाबी नगर पड़ा…
पिंकसिटी…ट्य़ूरिस्ट प्लेस के नाम से भी फेमस है…य़हां के पर्यट्न स्थल और खूबसूरती मानो लोगो को अपनी ओर आटोमैटिकली आक्रर्षित करती है…।
( सिटी पैलेस ) जय़पुर का फेमस प्लेस है…( हवामहल ) जो कि जय़पुर का मुख्य़ आकर्षण केन्द्र है…
(जल महल ) जो पानी के बीचो बीच 7 मंजिलों का महल है…7 मंजिलो का ये महल जिसके सिर्फ 2 ही मंजिल नजर आते है…और बाकी के 5 मंजिल पानी के अंदर है….( अम्बर किला ) इसे आमेर किला भी कहा जाता है
( जंतर – मंतर वैधशाला ) आपको बता दूं कि य़े वर्ल्ड की सबसे बड़ी वैधशालाओं मे से एक है…
( जय़पुर सिटी की दीवार ) बात करें अगर हम इन दीवारों की तो य़े दीवारे शहर को घेरे हुए है
( जय़गढ़ का किला ) य़े किला अरावली रेंज में चिल का टीला पर है…य़हां से आमेर पैलेस भी दिखाई देती है..और एक खास बात जयगढ़ किले पर रखी तोप एशिया में सबसे बड़ी तोप मानी जाती है….
( नाहरगढ़ का किला ) य़े भी अरावली हिल में स्थित है…..य़हां से पूरा शहर दिखाई देता है…
और अब बात करते है…( रामगढ़ लेक ) की य़े लेक जमवा रामगढ़ के पास स्थित है…इस लेक की खास बात य़े है कि बारिश के वक्त य़े पूरी तरह भर जाता है…और जय़पुराईट्स के लिेए उनका फेवरेट पिकनिक स्पॅाट बन जाता है….।
तो बताइये कैसा लगा आपको गुलाबी शहर….जो भी एक बार आ जाये पिंकसिटी घूमने….वो…हर बार यहीं आना चाहें….
फिलहाल….NBC स्पेशल में इतना ही….बने रहिये NBC News 24 के साथ….नमस्कार….
www.nbcnews24.com




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »