BREAKING NEWS
Search
maheshwari

हमें अपनी खबर भेजे

Click Here!

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

पढ़िए- दिल्ली के जीबी रोड कोठा- 71 की मालकिन की दरिंदगी का पूरा सच, पति से भी करवाया दुष्कर्म

328

जयपुर, देश की राजधानी दिल्ली में अन्य राज्यों से आई युवतियों को देह व्यापार में धकेलने वाला गिरोह सक्रिय है। आज आपको एक ऐसा ही मामला बता रहे हैं. जिसकी सच्चाई जानकर हर किसी की रूह कांप जाएगी। दरअसल आंध्र प्रदेश से नौकरी का झांसा देकर दिल्ली लाई गई युवती को एक युवक ने जीबी रोड के एक कोठे पर बेच दिया।

जहां उससे जबरन देह व्यापार करवाया जा रहा था। हैरानी वाली बात तो ये है कि इस कोठे पर बचने वाली महिला के पति ने भी युवती के साथ बलात्कार किया। युवती को बंधक बनाकर रखा जा रहा था। लेकिन इसी बीच युवती मौका पाकर घर से फरार हो गई और थाने जाकर अपनी आप बीती बताई। वहीं पुलिस ने युवती की रिपोर्ट के आधार पर आरोपी महिला और और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही पुलिस कोठा नंबर 71 जिस पर युवती के बेचा गया था उसकी मालकिन की तलाश कर रही है। बताया जा रहा है युवती को करीब ढाई साल पहले नौकरी का झांसा देकर दिल्ली लाया गया था।

आरोपी महिला ने पहले युवती को बेगमपुर इलाके में घरेलू कामकाज के लिए रखा. और उसके बाद करीब छह माह पहले उसने पीड़िता को एक कोठे पर बेच दिया। जहां उससे जबरन वेश्यावृति करवाई जा रही थी। पीडिता का कहना है कि जिस महिला ने उसे यहां पर बेचा है उसके पति ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया है। जब युवती ने महिला से इसकी शिकायत की तो उसने अनसुना कर दिया। बुधवार रात पीड़िता ने मौका देखकर साड़ी की रस्सी बनाई और उसके जरिये खिड़की से नीचे उतरकर आरोपितों के चंगुल से भाग गई। उसने घटना की शिकायत कमला मार्केट थाने में की है। वहीं मामला दर्ज होनें के बाद थानाधिकारी सुनील ढाका ने टीम गठित कर दबिश दी और आरोपी महिला और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही पुलिस ने जीबी रोड़ कोठा नंबर 71 पर भी दबिश दी लेकिन उसकी मालकिन मौका पाकर वहां से फरार हो गई। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।  (खबर स्त्रोत – जागरण)




One thought on “पढ़िए- दिल्ली के जीबी रोड कोठा- 71 की मालकिन की दरिंदगी का पूरा सच, पति से भी करवाया दुष्कर्म

  1. Virtual Assistants

    Outsourcing makes sense for most businesses – it helps to reduce labor & production costs, expedite transactions and boosts service efficiency. It’s definitely worth considering.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »